पैरों में सूजन या झुनझुनी ? तो यह एक गंभीर चेतावनी है। तो इसे पढ़ना बहुत जरूरी है॥

0
364

पैर क्यों जलते हैं?

गुर्दे की विफलता, फंगल संक्रमण, विटामिन की कमी, शराब के सेवन से पैर में जलन हो सकती है। यह समस्या दिखने में छोटी है लेकिन इसे नजरअंदाज करने लायक नहीं है।

यदि पैरों की जलन दो से तीन दिनों में दूर हो जाती है, तो चिंता की कोई बात नहीं है, लेकिन यदि समस्या बनी रहती है, तो आपको डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए, यहां तक ​​​​कि गंभीर बीमारियों जैसे तंत्रिका क्षति पैरों में जलन के लक्षण भी।

दिखाई दे रहा है, इसलिए उपचार में देरी न करें इस लेख में हम पैरों में जलन के कारणों और उसके उपचार के बारे में चर्चा करेंगे। इस विषय पर अधिक जानकारी के लिए हमने डॉ. सीमा यादव, एमडी फिजिशियन, केयर इंस्टीट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज, लखनऊ से बात की।

१. विटामिन बी की कमी से भी पैर जल सकते हैं।

पैरों में विटामिन बी से भरपूर खाद्य पदार्थ जलने का एक कारण पोषण की कमी भी है। शरीर में विटामिन बी की कमी से भी पैरों में जलन हो सकती है। विटामिन बी की कमी से शरीर में कई तरह की बीमारियां हो सकती हैं। जैसे एनीमिया। एनीमिया के कारण शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं की कमी हो जाती है, जिससे विटामिन बी की भी कमी हो जाती है। विटामिन की कमी के साथ अन्य समस्याओं में थकान, चक्कर आना और सांस लेने में कठिनाई शामिल है।

२. अस्वस्थ किडनी हो सकती है पैरों में जलन का कारण

जिन लोगों की किडनी स्वस्थ नहीं होती उन्हें भी पैर में जलन की समस्या हो सकती है। जैसे-जैसे गुर्दे काम नहीं करते, अशुद्धियाँ रक्तप्रवाह में प्रवेश करने लगती हैं, जिससे पैरों में जलन या खुजली हो सकती है। अगर किडनी खराब होने के कारण पैरों में जलन हो रही हो तो सांस लेने में तकलीफ, पेशाब में तकलीफ, उल्टी, थकान आदि लक्षण देखे जा सकते हैं। ये लक्षण दिखने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

३. संक्रमण से पैर जल सकते हैं

कई प्रकार के संक्रमण जैसे दाद, लसीका रोग आदि पैरों में जलन पैदा कर सकते हैं। संक्रमण पैरों में फैलता है, इसलिए लक्षण दिखने पर तुरंत डॉक्टर को दिखाएं। पैरों में जलन तंत्रिका क्षति का संकेत हो सकती है जो अक्सर मधुमेह से जुड़ी होती है। यदि जलन के साथ दर्द होता है, तो आपको उपचार में देरी नहीं करनी चाहिए।

एथलीट फुट भी हो सकता है पैरों में जलन का कारण एथलीट फुट, एथलीट फुट भी हो सकता है फुट बर्न का कारण एथलीट फुट एक प्रकार का फंगल इंफेक्शन है जो आमतौर पर एथलीटों के पैरों में पाया जाता है, इसलिए हम इसे एथलीट फुट कहते हैं। एथलीटों के पैरों में सूजन, खुजली हो सकती है। यदि आपको सूखी त्वचा, फटी त्वचा, पैरों में जलन, पैरों को छीलना जैसे लक्षण दिखाई दें, तो समझें कि यह एथलीट फुट है और इसका इलाज अपने डॉक्टर से करवाएं।

४. नीम में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं ।

पैर की जलन को दूर करने के लिए ठंडे पानी में पैर डुबोएं। आप चाहें तो पानी में बर्फ के टुकड़े भी डाल सकते हैं। ठंडे पानी से पैरों की जलन दूर हो जाएगी। पैरों को १५ मिनट के लिए पानी में भिगो दें, फिर उन्हें साफ तौलिये से पोंछ लें और पैरों को थोड़ा आराम दें और पैरों पर कोई अच्छा मॉइस्चराइजर या नारियल का तेल लगाएं।

पैरों की जलन से राहत पाने के लिए आप सेब के सिरके और पानी के मिश्रण में पैर भी डाल सकते हैं, लेकिन यह तरीका मधुमेह के रोगियों के लिए नहीं है।पैरों की जलन को दूर करने के लिए पैरों की मालिश करें, इससे रक्त संचार बेहतर होगा और जलन कम होगी।

पैरों की मालिश के लिए आप किसी भी वाहक तेल जैसे बादाम का तेल या नारियल का तेल का उपयोग कर सकते हैं। आप इसमें लैवेंडर के तेल जैसे आवश्यक तेल की कुछ बूंदें भी मिला सकते हैं। आपका डॉक्टर आपको एक एंटी-फंगल क्रीम दे सकता है या यदि आपके पैर जल रहे हैं तो आपको अपने जूते बदलने पड़ सकते हैं।

अगर विटामिन बी की कमी के कारण पैरों में जलन हो रही है, तो डॉक्टर आपको विटामिन बी सप्लीमेंट दे सकते हैं। आप विटामिन बी से भरपूर खाद्य पदार्थ भी खा सकते हैं। अंडे, चिकन, पालक आदि में विटामिन बी पाया जाता है।

खुजली ज्यादा हो तो डॉक्टर की सलाह से मैग्नेट थेरेपी ले सकते हैं। अगर पैरों में जलन दो से तीन दिन में ठीक हो जाए तो चिंता की कोई बात नहीं है, लेकिन अगर पैर ज्यादा देर तक जले तो तुरंत डॉक्टर को दिखाएं। कई बार आमतौर पर दिखने वाले लक्षण किसी बड़ी बीमारी का कारण भी बन सकते हैं, इसलिए लापरवाही न करें।

५. अगर आपके पैर जल गए हैं तो क्या करें?

पैरों में जलन होने पर आप कुछ आसान घरेलू उपाय कर सकते हैं, लेकिन यह थोड़े समय के दर्द में असरदार है, ज्यादा दर्द होने पर डॉक्टर को दिखाएं।

हल्दी वाला दूध पीने से पैरों की जलन में आराम मिलता है। हल्दी में करक्यूमिन होता है, जो नसों को राहत देता है। करक्यूमिन एक एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटी-माइक्रोबियल है। इससे पैरों की जलन दूर हो जाएगी। अगर संक्रमण के कारण पैरों में जलन हो रही हो तो पैरों की जलन को दूर करने के लिए नीम का तेल या नीम का पेस्ट पैरों पर लगाएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here