भारत में २१ जुलाई को बकरीद, देखें-पूरी दुनिया में कैसी चल रही तैयारी जानिए

0
142

ईद उल-अजहा यानी बकरीद का त्योहार भारत में २१ जुलाई को मनाया जाएगा. यह इस्लाम धर्म का दूसरा सबसे बड़ा त्योहार जो ईद उल फितर के ७० दिन बाद मनाया जाता है. इस्लाम धर्म को मानने वाले लोग बकरीद पर सुबह नमाज अदा करते हैं. इसके बाद आपस में गले मिलकर एक दूसरे को बधाई देते हैं. इसके बाद जानवर की कुर्बानी दी जाती है.

भारत और पाकिस्तान में बुधवार, २१ जुलाई को ईद का त्योहार मनाया जाएगा. कई देशों में बकरीद आज ही मनाई जा रही है. इस्लाम समुदाय में कुर्बानी के वक्त ये भी ध्यान रखना होता है कि जानवर को चोट ना लगी हो और वो बीमार भी ना हो.

पाकिस्तान के पेशावर में बकरे की खरीदारी के लिए पिछले एक सप्ताह से बाजारों में भीड़ लगी हुई है. ईद पर बकरे की कुर्बानी के बाद उसका मांस गरीब लोगों में बांट दिया जाता है. बता दें कि मुस्लिम धर्म के लोग अल्लाह की रजा के लिए कुर्बानी करते हैं. हालांकि इस्लाम में सिर्फ हलाल के तरीके से कमाए हुए पैसों से ही कुर्बानी जायज मानी जाती है.

ईद के मौके पर इंडोनेशिया की एक मस्जिद में सैकड़ों महिलाओं ने एक साथ खड़े होकर अल्लाह की इबादत की. इंडोनेशिया अभी कोरोना की नई लहर से भी जूझ रहा है, जिसके चलते सरकार ने यहां लोगों के इकट्ठा होने पर पाबंदी लगा रखी है.

इंडोनेशियन सरकार की गाइडलाइंस के मुताबिक, मास्क पहनने वाले लोगों को ही मस्जिद के अंदर दाखिल होने की अनुमति है. मस्जिद के अंदर भी लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना पड़ रहा है.

हालांकि, यहां कुछ मस्जिदों में सोशल डिस्टेंसिंग की परवाह किए बगैर नमाज अदा करने वालों को भी तस्वीरों में साफ देखा जा सकता है. हाल ही में इंडोनेशिया ने कोरोना की बड़ी तबाही को झेला है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here